शनि देव के दो एजेंट हैं पहला है राहू और दूसरा है केतू, अब यदि आपकी कुंडली में केतू देव खराब हैं तो उसका कारण स्वयं शनि देव हैं आपका स्वभाव जितना ज्यादा कठोर, स्वार्थी, और कड़वी बातें बोलने वाला होगा आपका केतू उतना ज्यादा ही खराब होकर आपको जीवन में सबसे पहले तो सभी रिश्तों से अलग-थलग कर देगा, फिर धीरे धीरे यह आपकी किसी से मित्रता नहीं बनने देगा, आपके विचार बाहर तो दूर की बात है घर में ही किसी के साथ विचार नहीं मिलेंगे, आपकी बातों को सुनकर सभी लोग अहमी, या घमंडी बोल सकते हैं, ऐसे जातक हमेशा ऊंची आवाज में बात करना ज्यादा पसंद करते हैं और चाहे बाद में अंदर से कितने भी अच्छे क्यों न हो लेकिन पहले उनके स्वभाव पर लोग सवाल उठाकर स्वार्थी का लेबल लगा देते हैं, Ketu ke upay


जन्म कुंडली के तीसरे, छठे, आठवें भाव या मिथुन, कन्या, वृश्चिक राशि में केतू देव अच्छा फल नहीं देते हैं और मंगल, बुध, चन्द्र, शुक्र के साथ भी इनका अच्छा फल नहीं कहा गया है।
ज्योतिष विज्ञान में केतू को पापी/क्रूर ग्रह माना गया है, और इसको तर्क-वितर्क शक्ति, कल्पना और मानसिक विचारों का मालिक भी माना गया है, यदि जन्म कुंडली में यह ग्रह जितना खराब या नीच होगा उतना ज्यादा ही संभव है कि जातक को इस तरह की परेशानियाँ या गंदी आदत लग गई हो।
जन्म कुंडली में केतू देव बहुत खराब हो तो शुगर, इन्फ़ैकशन, या रक्त चाप की बीमारी भी लग जाती है जो कि परिवार में एक के बाद दूसरे को पीढ़ी दर पीढ़ी लगी रहती है, परिवार में नर संतान के दुख में देरी, खराबी, या फिर किसी अन्य प्रकार से परेशानी का सामना करना पड़ता है। संभव है कि ऐसा स्वभाव से अचानक बहुत गरम या बहुत नरम होता है, और पल में अपना स्वभाव बदल लेता है, यदि ऐसे जातक के गले कोर्ट-कचहरी पड़ जाये तो मजबूत वकील नहीं मिलता है, उसे हमेशा अपने वकील से हार ही मिलती है, अब इसमे गलती वकील की नहीं होती है, परंतु जातक वकील में कमियाँ निकालता है या फिर सच भी ऐसा हो सकता है कि अपने पक्ष का वकील अच्छा न मिले। Ketu ke upay


अच्छा केतू-
जन्म कुंडली के दूसरे, नौवे, बारहवें भाव में या वृषभ, धनु, मीन राशि में केतू देव अच्छे और शुभ परिणाम देने वाले कहे गए हैं, अच्छा केतू जातक को बहुत अच्छी तर्क शक्ति देते हुये भी शांत रहने की ताकत भी देता है और ऐसा जातक कभी भी अपनी मानसिक, शारीरिक और आर्थिक शक्ति का दुरुपयोग नहीं करता है, हर किसी की बात को बहुत देर तक सुनने के बाद भी जल्दी से निर्णय नहीं देता है।
अच्छे केतू वाला जातक अपनी संतान को कभी भी बदले की भावना वाली बात नहीं सिखाता है, और अपने बच्चों को हमेशा धार्मिक बातें बहुत उच्च स्तर की सिखाता है, ऐसे जातक के बच्चे संतान बहुत शांत होते हैं और परिवार में सभी चाहे कितने भी ज्यादा सदस्य क्यों न हो परंतु फिर भी सब लोग शांत, प्यार और आपसी सद्भावना से जीवन व्यतीत करते हैं।
अच्छे केतू वाले जातक के घर में अच्छी और कुल को रोशन करने वाली संतान जन्म लेना बंद नहीं करती है, ऐसा जातक संतोष, और धैर्यशील जीवन व्यतीत करता है, और भगवान, अपने इष्ट पर हमेशा विश्वास रखता है, और ऐसा जातक अध्यात्म के उच्चतम शिखर तक जाता है। Ketu ke upay

जन्म कुंडली में केतू खराब हो तो क्या करें और क्या ना करें-
गाली-गलौज का कभी प्रयोग ना करें।
कुत्तों और कौवों की सेवा जरूर करें, और निस्वार्थ भाव से करें, यह सोचकर न करें कि आपको जल्दी से लाभ होगा।
किसी की संतान को गलत नजर से ना देखें।
रोजाना भगवान गणेश जी की पूजा जरूर करें, यह बहुत उत्तम उपाय है।
काले-सफ़ेद मिक्स रंगों से हमेशा परहेज रखें।
हर महीने में एक बार एक काला-सफ़ेद कंबल किसी मजदूर आदमी को दान दें।
8 दिन लगातार 8 केले लड़कों बच्चों को बांटें।
हर गुरुवार सुबह 4 से 8 बजे तक कभी भी आप भगवान गणेश जी के मंदिर जाएँ और उनकी आराधना जरूर करें ।
पाँच मुखी रुद्राक्ष धारण करें। Ketu ke upay

केतू ग्रह के लिए यंत्र-
व्यापार वृद्धि, स्वास्थ्य वृद्धि, तथा संतान सुख के लिए आप अपने घर में महालक्ष्मी, अष्टविनायक गणपती यंत्र स्थापित करें। (यंत्र प्लास्टिक का बिलकुल न हो ) To Buy Yantra Click here
केतु मंत्र
केतु की अशुभ दशा से बचने के लिए आप केतु के बीज मंत्र का जाप भी कर सकते हैं
ॐ स्रां स्रीं स्रौं सः केतवे नमः!
केतु मंत्र का 17000 बार उच्चारण करें। देश-काल-पात्र सिद्धांत के अनुसार कलयुग में इस मंत्र को 68000 बार जपने के लिए कहा गया है, या आप जो अष्टविनायक यंत्र स्थापित करेंगे उसकी प्राण प्रतिष्ठा करवाकर स्थापित करें तो आपको रोजाना मंत्र सुन लेने से भी लाभ हो सकता है।

आप इस मंत्र का भी जाप कर सकते हैं – ॐ कें केतवे नमः!

अपनी जन्म कुंडली का सही विश्लेषण और उपाय जानने के लिए कॉल करें- 9899592225 or Click here
हम आपको software से कॉपी करके जन्म कुंडली नहीं देते हैं, बल्कि सही उपाय और सलाह देते हैं। Subscribe our Youtube Channel :-Click here